TaazaTales WhatsApp Channel Join Now
TaazaTales Telegram Channel Join Now

Byju’s के कर्मचारियों की बढ़ी परेशानी, अभी तक नहीं मिली जनवरी की सैलरी, नहीं खत्म हो रही है कंपनी की मुसीबतें।

BYJU's
Byju’s

भारत की दिग्गज एडटेक कंपनी Byju’s की मुसीबतें खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही हैं. अमेरिका में कंपनी की एल्फा यूनिट ने कोर्ट में दिवालिया होने की गुहार लगाई है. दरअसल, इस यूनिट ने डेलावेयर की कोर्ट में चैप्टर 11 के तहत बैंकरप्सी प्रोसिडिंग्स के लिए आवेदन दिया है. इस यूनिट पर 1 से 10 अरब डॉलर तक की देनदारी है.

रॉयटर्स की रिपोर्ट में कहा गया है कि कोर्ट में दायर याचिका के अनुसार, BYJU’s की अल्फा यूनिट ने अपनी संपत्ति 50 करोड़ से 1 अरब डॉलर की रेंज में लिस्ट की है

क्यों दिया Byju’s की अल्फा यूनिट ने अदालत में आवेदन

Byju’s की अल्फा यूनिट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी टिमोथी पोहल द्वारा दायर याचिका के अनुसार, अल्फा यूनिट के पास कर्ज के बारे में अपनी मूल कंपनी के साथ लड़ने के लिए पर्याप्त पैसा नहीं है. वहीं, लेनदारों की संख्या 100 से 199 के बीच है. Byju’s पिछले डेढ़ साल से बुरे आर्थिक दौर से गुजर रही है.

बिजनेस चौपट होने और कर्ज बढ़ने से कंपनी की माली हालत लगातार खराब होती जा रही है. कुछ दिनों पहले कंपनी के मौजूदा हालात को देखते हुए दुनिया की सबसे बड़ी एसेट कंपनी ब्लैकरॉक ने बायजू के वैल्युएशन में बड़ी कटौती की. कभी इस कंपनी की कीमत 1,82,000 करोड़ रुपये थी, लेकिन वैल्युएशन में कटौती के बाद कंपनी की वैल्यू घटकर 8200 करोड़ रह गई.

BYJU's
BYJU’s

Byju’s के कर्मचारियों को नहीं मिली सैलरी

आर्थिक संकट से जूझ रही एडयूटेक कंपनी बायजू ने जनवरी महीने के लिए अपने कर्मचारियों के वेतन में देरी की है। कथित तौर पर कंपनी के मैनेजमेंट ने अपने कर्मचारियों को एक ईमेल के जरिए देरी के बारे में बताया है। ईमेल में लिखा गया है कि कुछ निवेशकों द्वारा आर्थिक संकट के कारण इस महीने वेतन वितरण में थोड़ी देरी हुई है।

Read Also  Online Business Idea 2024:- बिना किसी निवेश के शुरू करें यह बिजनेस और कमाएं लाखों

दिसंबर में, बायजू ने अपने कर्मचारियों को यह विश्वास दिलाया था कि अब उनकी सैलरी समय पर आएगी। तब कंपनी ने कहा था कि हर महीने के पहले दिन, कर्मचारियों के अकाउंट में सैलरी भेज दी जाएगी, लेकिन एक बार फिर देरी हो रही है। यह खबर इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि बायजू अलग-अलग मोर्चे पर संकट का सामना कर रही है। इस बीच, अमेरिका में बायजू की अल्फा यूनिट ने डेलावेयर की कोर्ट में दिवालियापन याचिका के लिए दायर की है।

Byju’s कंपनी में बगावत हर दिन बढ़ती ही जा रही है

BYJU’s

वहीं, हम बात करें तो, बायजू ब्रांड के अंतर्गत संचालित होने वाली थिंक एंड लर्न प्राइवेट लिमिटेड में लगभग 6 निवेशकों ने कंपनी के प्रमुख मुद्दों पर बात करने और संस्थापकों को फर्म पर नियंत्रण से बाहर करने के लिए एक Extraordinary General Meeting (EGM) बुलाई है। सूत्रों ने यह जानकारी दी है। ईजीएम नोटिस में नीदरलैंड की निवेश कंपनी प्रोसस के नेतृत्व में निवेशकों ने बकाया शासन, वित्तीय कुप्रबंधन और अनुपालन मुद्दों के समाधान और निदेशक मंडल के पुनर्गठन का अनुरोध किया है। निवेशकों के समूह ने शेयरधारकों को भेजे गए नोटिस में कहा, “ईजीएम में जिन प्रस्तावों पर विचार किया जा रहा है, उनमें बकाया प्रशासन, वित्तीय कुप्रबंधन और अनुपालन मुद्दों के समाधान, निदेशक मंडल के पुनर्गठन का अनुरोध शामिल है ताकि यह अब थिंक एंड लर्न के संस्थापकों द्वारा नियंत्रित न हो और कंपनी के नेतृत्व में बदलाव हो सके।

Read Also  Business idea Bakri Palan: अगर आप इस विशेष नस्ल की बकरी पालते हैं, तो आप बहुत जल्दी अमीर बन सकते हैं। इस विशेष नस्ल के बारे में कुछ खास बातें जानिए

ऐसे ही और व्यापार संबंधित खबरें पढ़ने के लिए जहाँ क्लिक करें।